Input your search keywords and press Enter.

नीतीश के आने के बाद से बिहार में हुआ ये बड़ा चमत्कार,अब दिसम्बर से 5000…

nitish-kumar

फ़ाइल फ़ोटो


न्यूज़ डेस्क: एक समय ऐसा था जब शाम होते ही बिहार गांव से लेकर शहर तक अँधेरे की चादर में सिमट जाता था. बिजली से जुड़े सभी उद्योग धंधे ठप पड़े थे. बिजली उत्पादन के नाम पर हम मात्र 700 मेगावाट ही बिजली का उत्पादन हो पता था इसमे भी काफी कठिनाई आती थी.

पर अब हालात बदल चूके हैं हमने बिजली उत्पादन के क्षेत्र में काफी सुधार किया हैं. मार्च 2017 में बिहार की विधुत कम्पनियों ने 3894 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया. बीते सोमवार को विधुत कम्पनियों ने रिकॉर्ड 4100 मेगावाट बिजली आपूर्ति की थी. विधुत कम्पनियां जल्द ही इस रिकॉर्ड को तोड़ने की योजना बना रही हैं इस साल के अंत तक बिहार में 5 हजार मेगावाट से आधिक बिजली आपूर्ति होने लगेगी.

Loading...

साल के अंत तक राज्य में बिजली खपत की क्षमता 8000 हजार मेगावाट हो जाएगी. इस टारगेट को पूरा करने के लिए विधुत कंपनियों ने निर्माणाधीन ग्रिड और पॉवर सब स्टेशन का निर्माण कार्य तेज कर दिया हैं तथा ग्रिड-पॉवर सब स्टेशन की संख्या बढ़ा कर 158 करने की भी योजना हैं वर्तमान में 112 ग्रिड-पॉवर सब स्टेशन कार्यरत हैं.

[shareaholic app=”recommendations” id=”18820568″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.