Input your search keywords and press Enter.

छींटाकशी का शिकार हुई पटना की सुरीली आवाज RJ अंजलि, पूछा – ‘और कब तक ये सब सहना पड़ेगा?’

RJ-ANJALI1

पटना.न्यूज़ डेस्क.
देश में महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा पर तमाम शोर-शराबे के बावजूद, सोशल मीडिया पर बड़े-बड़े आर्टिकल्स लिखे जाने के बावजूद ऐसी घटनाओं पर लगाम नहीं लग रही है. ताजा मामला पटना से प्रसारित एक FM रेडियो चैनल की RJ के साथ हुआ जब वो एक अपनी कार में पेट्रोल भरवाने एक पेट्रोल पंप पर रुकीं और वहां मौजूद लड़कों ने उन्हें देखकर आपत्तिजनक हरकतें करनी शुरू कर दी.

बिहार की राजधानी पटना को आम तौर पर लड़कियों के लिए सुरक्षित माना जाता है और सरकारी आंकड़े भी इसकी गवाही देते हैं. लेकिन राह चलती लड़कियों पर कमेंट करना और छींटाकशी होते हुए देखना हमारी सामान्य रूटीन में भी आम बात हो गयी है. इससे भी ज्यादा गंभीर यह है कि जब हम ऐसा होते हुए देखते हैं तो भी उसके खिलाफ आवाज नहीं उठाते.

RJ अंजलि ने अपने फेसबुक वाल पर लिखा, ‘आज ऑफिस से निकलने के बाद अपने घर के रास्ते में मैं अपनी गाडी में पेट्रोल भरवाने एक पंप पर रुकी जहाँ मैं अक्सर ही जाती हूँ. जब मैंने पंप पर गाडी रोकी तो वहां करीब 40 बाइकसवार लड़के थे जो शायद किसी चुनावी कैंपेन का हिस्सा थे. जैसे ही उन्हें लगा कि कार ड्राईवर एक लड़की है तो वो जोर-जोर से हूटिंग (शोर मचाने) करने लगे. थोड़ी देर तक यह चलता रहा..तब मैंने इसका कारण जानने के लिए बाहर निकलने का फैसला किया. मैं यह देखकर सन्न रह गयी कि मेरे बाहर आने पर उनकी हूटिंग और तेज हो गयी. इससे पहले मुझे इतना डर कभी नहीं लगा था. फिर अचानक मैंने अपना फोन निकाल कर उनकी फोटो खींचनी शुरू कर दी. मुझे ऐसा करते देख वो लोग थोड़े डरे और फिर धीरे धीरे वहां से भागने लगे. उसी वक़्त वहां एक आदमी आया और उसने मुझसे कहा, ‘मैडम निकल जाइए..इलेक्शन का टाइम है..समय खराब चल रहा है.”

Loading...
PATNA-RJANJLI-HOOTED

फोटो: RJ अंजलि की फेसबुक वाल से

अंजलि आगे लिखती हैं, ‘वहां से निकलने के बाद मेरे मन में कई सवाल उठने शुरू हो गए, (1) पेट्रोल पंप के किसी कर्मचारी ने मेरी मदद क्यूँ नहीं की? (2) ये गुंडे जैसे लोग किसी भी कैम्पेन का हिस्सा कैसे हो सकते है? (3)..और कब तक ये सब सहना पड़ेगा?

(हम dailybiharnews.in के सभी रीडर्स से कहना चाहते हैं कि अब बिहार में भी लडकियां साईकल से आगे बढ़कर स्कूटी और कार तक चलाने लगी हैं. और ये हमारी ही घर की लडकियां हैं इसलिए सड़क पर इन्हें किसी दुसरे गृह के प्राणी की तरह ना देखें. हम आपसे अपील भी करना चाहते हैं कि अगर कही ऐसी घटना देखें तो उसके खिलाफ आवाज उठायें.)

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:”]

Leave a Reply

Your email address will not be published.