Input your search keywords and press Enter.

मैथेमेटिक्स गुरू ने शेयर किया राष्ट्रपति कोविंद से हुई पहली मुलाकात की यादें…

rk shrivastav

rk shrivastav

आज भी वे शब्द मे कानो मे प्रेम पूर्वक सुनाई देते है. जब मेरी पहली मुलाकात महामहिम रामनाथ कोविद जी से हुई. जैसे ही मेरे कदम उनके दरवाजे के पास पहुँचा आदरणीय रामनाथ कोविद जी ने बोला आइए मैथेमेटिक्स गुरू आइए. कैसे है आप? मेरा तो पहला मुलाकात महामहिम महोदय से था. परंतु हमें तो उनकी बातों से लगा की कितने वर्षों से वे हमें पहचानते है.

मैथेमैटिक्स गुरू आर के श्रीवास्तव ने श्री रामनाथ कोविंद को देश का 14वां राष्ट्रपति चुने जाने पर बधाई और शुभकामनाएं दिये. श्रीवास्तव ने बताया की बिहार के लिए यह गर्व करने का दिन है. श्री रामनाथ कोविद को बिहार के राज्यपाल से राष्ट्रपति तक का सफर तय करना बिहार के इतिहास के स्वर्णिम पन्नों मे अंकित हो गया. मैथेमेटिक्स गुरू ने कहा कि श्री कोविंद देश के गरीब और वंचित लोगों की आकांक्षाओं के प्रतीक हैं. हम उन्हें राष्ट्रपति पद की और उनके सफल कार्यकाल की शुभकामनाएं देते हैं.

आज भारत एक उदीयमान शक्ति है, एक ऐसा देश है जो विज्ञान, प्रौद्योगिकी, नवान्वेषण और स्टार्ट-अप में विश्व अग्रणी के रूप में तेजी से उभर रहा है और जिसकी आर्थिक सफलता विश्व के लिए एक कौतूहल है. हमे पूर्ण विश्वास है की इस प्रगति को आदरणीय रामनाथ कोविद अपने कार्यकाल मे नई दिशा देगे.

देश के 14 वे राष्ट्रपति को आप भी दे बधाई:

एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद अब देश के 14वे राष्ट्रपति होंगे. उन्होंने यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार को रिकॉर्ड मतों से हरा दिया है. वैसे रामनाथ कोविंद का जीतना पहले से तय माना जा रहा था क्योंकि निर्वाचक कॉलेजियम मे भाजपा और उसके सहयोगी दलों को बहुमत प्राप्त है. देश को नया राष्ट्रपति मिलने पर बधाइयों का तांता लग गया है.

Loading...

पीएम नरेंद्र मोदी ने भारत के नए राष्ट्रपति चुने जाने पर रामनाथ कोविद को बधाई दी है. इसके साथ ही उन्होंने एक प्रेरक और उपयोगी अवधि के लिए शुभकामनाएं भी दी हैं.

मैथेमेटिक्स गुरू आर के श्रीवास्तव ने आदरणीय रामनाथ कोविद के साथ बिताये कुछ पल को देशवासियो के साथ शेयर किया –

वक्त बदला, गांव और शहर बदला लेकिन नहीं बदले रामनाथ कोविंद. श्रीवास्तव ने बताया की महामहिम बहुत ही शांत स्वभाव , मिलनसार तथा छोटे – बड़े सभी को सम्मान प्यार देते है. कोई उनसे पहली बार भी मिलता है तो आदरणीय रामनाथ कोविद जी उनसे ऐसे बातचीत करते जैसे वर्षों से वे पहचानते हो. बिहार के चर्चित मैथेमेटिक्स गुरू आर के श्रीवास्तव ने बताया की राजेन्द्र प्रसाद, अब्दुल कलाम, प्रणव मुखर्जी के बाद देश को एक और विलक्षण प्रतिभा के धनी रामनाथ कोविद के रूप मे प्रभावशाली राष्ट्रपति मिला है. देश उम्मीद भरी निगाहों से देख रहा है की इनके कार्यकाल मे हिन्दुस्तान नई ऊँचाइयों को छू लेगा.

मेहनत और काबिलियत के बल पर रामनाथ कोविद पहुँचे फर्श से अर्श तक:

परौंख गांव के रामनाथ को अब पूरा देश अदब से महामहिम रामनाथ कोविंद कहेगा। एक गरीब परिवार में जन्मे किसी शख्स के लिए इससे बड़ी सफलता क्या हो सकती है. जिंदगी बदली और कोविंद फर्श से अर्श पर पहुंच गए लेकिन, वह खुद जरा भी नहीं बदले. इस बड़ी उपलब्धि के बाद भी कोविंद की सरलता देखकर दिल्ली से लौटे कार्यकर्ता अभिभूत हैं. रामनाथ कोविंद कानपुर देहात और कानपुर नगर में राजनीति और सेवा कार्यों में सक्रिय रहे. लोगों से गर्मजोशी से मिलना, किसी भी कार्यकर्ता की मदद को खड़े रहना उनके व्यक्तित्व की खासियत है. वह बिहार के राज्यपाल बनने के बाद भी दो बार कानपुर गये. लेकिन, उनके आसपास रहने वाले लोगो को उन्होंने पहले की तरह ही तरजीह दी. अब रामनाथ कोविद देश के राष्ट्रपति निर्वाचित हो गए हैं. गुरुवार को उनके दयानंद विहार आवास सहित पूरे देश की जनता जश्न मे डूबे रहे.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.

[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.