Input your search keywords and press Enter.

शुकराना समारोह में धूम-धाम से निकला नगर कीर्तन, देखें मनमोहक तस्वीरें और वीडियो

हितेश कुमार : सिक्खों के धर्म गुरु गुरु नानक जयंती के 350 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष में राजधानी पटना में आयोजित 350वें शुकराना समारोह के मौके पर आज पटना सिटी स्थित गायघाट से नगर कीर्तन यात्रा निकाला गया. यह यात्रा गायघाट से छोटी गुरुद्वारा, गुलजार बाग होते हुए बड़ी गुरुद्वारा तक जाएगी. यह पहला अवसर है जब किसी एक धर्म के लोगों द्वारा आयोजित इस समारोह में हर धर्म और समुदाय के लोग बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं.


चाहे हिंदू हो, मुसलमान या फिर सिख, इसाई सभी इस नगर कीर्तन में बड़े हर्ष और उल्लास से शामिल हो रहे हैं. नगर कीर्तन के दौरान गुरु नानक देव को रथ पर विराजमान कर उनकी रथ के पीछे हजारों की संख्या में पुरुष, महिला, बच्चे और बूढ़े सभी एक कतार में उत्साह के साथ कीर्तन करते हुए यात्रा कर रहे हैं. खास बात यह है कि इस रथ के आगे आगे सैकड़ों की संख्या में युथ महिला और पुरुष सड़कों पर जल गिराकर उसे झाडू से सड़कों की सफाई कर रहे हैं. ताकि गंदगी पर गुरु नानक की यात्रा न हो सके. वीडियो के माध्यम से इन तस्वीरों को आप खुद ही देख सकते हैं कि किस प्रकार से महिलाएं और पुरुष सभी गुरु नानक की यात्रा के उत्साह और उमंग के बीच सड़कों की सफाई में लगे हैं.

Loading...


350वें गुरुनानक जयंती के शुकराना समारोह के आयोजन के मौके पर पंजाब और हरियाणा से सिख समुदाय के लोग सैकड़ों की संख्या में राजधानी पटना पहुंचे हैं. शुकराना समारोह में शामिल होकर अपने गुरु का आशीर्वाद प्राप्त कर लोग अति प्रसन्न दिख रहे हैं. वहीं भटिंडा से आए सुखविंदर सिंह ने कहा कि हर एक चीज हमें पसंद आया. लेकिन हिंदुस्तान में अभी भी अंधविश्वास कायम है. अंधविश्वास का एक नमूना यह भी है कि गुरु नानक के रथ यात्रा के दौरान लोग सड़कों की सफाई करने के लिए कतार में खड़े हैं. जब डेली बिहार न्यूज की टीम सुखविंदर सिंह से कैमरे पर बात करने की कोशिश किया तो उन्होंने बात करने से इनकार कर दिया, और पर्व के मौके पर उमंग की बात का सवाल को टाल गए. बैंड बाजे, ढोल नगाड़े के साथ इस आयोजन में हिंदू मुस्लिम सिख समुदाय के लिए भी एक नमूना पेश किया है सिख समुदाय के द्वारा सभी धर्मों को दिया गया संदेश आयोजन के दौरान बनाए गए वीडियो में आप बखूबी देख सकते हैं. किस तरीके से हिंदू, मुस्लिम और सिख समुदायों को मानव समाज का अलग-अलग श्रेणी बताया गया है.



इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.