Input your search keywords and press Enter.

गरीबी बनी अभिशाप, लाचार महिला की हुई दर्दनाक मौत…

lakhishray


न्यूज़ डेस्क : कहते हैं गरीबी किसी भी हद तक इंसान को वेबस और लाचार बना देती है. लखीसराय में सोमवार रात यह देखने को मिला की एक गरीब इंसान का क्या हश्र होता है और गरीबी कैसे किसी के लिए अभिशाप बन जाती है. 10 साल से भिक्षा मांग कर गुजारा करने वाली 62 वर्षीय महिला पनमा देवी की सोमवार रात मौत हो गई.

व्यवस्था और समाज पर सवाल खड़ा करने वाली यह घटना चानन प्रखंड के जानकीडीह पंचायत के धनवह गांव की है. जहां लाचार और गरीबी का अभिशाप झेल रही महिला को प्रशासनिक उदासीनता का खामियाजा भुगतना पड़ा. जिसे अस्पताल में इलाजरत होना चाहिए था, वह अपने घर की दहलीज पर मृत पड़ी रही. मंगलवार की सुबह ग्रामीणों ने आपसी सहयोग से महिला का दाह संस्कार किया.

Loading...

महिला अपने पति के मौत के बाद अपने भतीज-पतोहू एक 40 वर्षीय लाचार विधवा के साथ रहती थी जो की स्कूल में रसोइया का काम करती थी. पर उसे भी चार माह से वेतन नही मिला था की जिससे वो ईलाज करा पाए. पंचायत में राशि नहीं आने के कारण वृद्धा को भी चार माह से पेंशन(400 प्रतिमाह की दर से) नहीं मिला था.

जानकीडीह पंचायत की मुखिया कमनी देवी ने बताया कि आधार लिंक नहीं होने के कारण पेंशन पेंडिंग है और क्षेत्र में स्वास्थ्य व्यवस्था लचर है. कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत मृतक के परिजनों को राशि उपलब्ध कराई जाएगी.

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Leave a Reply

Your email address will not be published.