Input your search keywords and press Enter.

PM मोदी के खिलाफ खड़े हुए शरद यादव, तीन तलाक पर दिया बड़ा बयान….

Modi sharad

Modi sharad


न्यूज़ डेस्क: जनता दल यूनाईटेड के पूर्व अध्यक्ष और बागी पूर्व सांसद शरद यादव इन दिनों बिहार में संवाद यात्रा पर निकले हुए हैं. महागठबंधन टूटने के बाद नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोलने बाले बागी शरद यादव को जदयू पार्टी से निष्कासित कर चुकी है साथ ही राज्यसभा से सदस्यता भी खत्म हो चुका है.

संवाद यात्रा पर किशनगंज जिला पहुंचे शरद यादव ने मीडिया से बातचीत के क्रम में नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उनका कहना है कि वह इस्लामी विद्वानों से विचार-विमर्श किये बगैर फौरी तीन तलाक पर विधेयक लाकर अपनी मर्जी थोपना चाह रही है. लोकसभा में पेश किये गये तीन तलाक विधेयक की आलोचना करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट कह चुकी है कि तीन तलाक पर कोई भी कानून इस्लामी विद्वानों के साथ विचार-विमर्श पर आधारित होना चाहिए. लेकिन यह सरकार लोकसभा में विधेयक पेश करने से पहले ऐसा कुछ नहीं किया गया. शरद यादव का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली सरकार सदन में विधेयक पेश कर अपनी मर्जी थोपना चाह रही है. इधर-उधर की बातें बचाव में कर रही है.

Loading...

जबकि दूसरी तरफ उनके सहयोगी अली अनवर ने ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को विश्वास में नहीं लेने पर मोदी सरकार से नाराजगी जाहिर की है. शरद और अली अनवर ने मुख्यमंत्री एवं जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने भाजपा के साथ गठबंधन सरकार बनाकर 2015 के विधानसभा चुनाव के जनादेश का अपमान किया है जिसका अपमान बिहार की जनता आने वाले समय में देगी. बीजेपी की मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि हर साल एक करोड़ युवाओं को रोजगार, हर व्यक्ति को 15 लाख, देने की बात कही थी उसका क्या हुआ अपना वादा पुरा क्यों नहीं करते हैं.


ali anwar

file photo


यह भी पढ़ें:
बीजेपी में ही मचा घमासान, जेटली ने किया किताब का विमोचन जो मोदी के मौत की आशंका को लेकर उत्तेजित थी….

सीएम नीतीश के पार्टी नेता के बाद अब एनडीए के इस बड़े नेता ने लालू को बताया बेकसूर, बवाल मचना तय…..

हिम्मत है तो इन 8 कपड़ों को पहन कर दिखाए

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.