Input your search keywords and press Enter.

विधुत विभाग बहाली में हुए घोटाले पर छात्र हुए उग्र, बहाली को रोकने को लेकर उठाया बड़ा कदम…

train


पटना. मो0 गुलफ़राज़ : बिहार के सभी इंजीनियरिंग एवं पॉलीटेक्निक के छात्र ने बिहार विधुत विभाग द्वारा रिजल्ट में हुई घोटालेबाजी को लेकर तकनीकी छात्र संगठन ने रेल चक्का जाम कर अपना विरोध प्रकट किया है. बता दें की हाल ही में हुए विधुत विभाग के परीक्षा में छात्र अनियमितता का आरोप लगा रहें है और जांच की मांग कर रहे हैं.

छात्र परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर कई दिनों से आंदोलन कर रहे है पर सरकार के उदासीन रवैया को देखकर छात्र ऊर्जा मंत्री विजेंद्र यादव की इस्तीफा का मांग कर रहे हैं और साथ-साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हाय हाय का नारा भी लगा रहे थें. शुक्रवार को छात्रों ने राजेंद्रनगर टर्मिनल पर रेल चक्का जाम कर कई ट्रेनों का परिचालन घंटो के लिए बाधित कर दिया, इससे पहले छात्रों ने उर्जा मंत्री आवास का घेराव भी किया था.
Loading...

छात्रों ने बताया की सरकार जांच की आदेश तो दे दी है पर इसपर कोई काम नहीं कर रही और दूसरी तरफ 7 जनवरी तक बहाली भी ले रही है. छात्रों की मांग है की जांच की रिपोर्ट आने तक बहाली रोक दी जाए और फिर से दुबारा परीक्षा लिया जाय. छात्रों ने विभाग को सबूत के तौर पर 46 छात्रों का लिस्ट दिया है जिनका रजिस्ट्रेशन और रोल नंबर साथ है. दो दो के पेअर कर क्रमबद्ध रिजल्ट दिया गया है. इस दौरान तकनीकी छात्र संगठन के अध्यक्ष विशाल कुमार रामदीप, सौरव पटेल, रंजन, पवन यादव एवं जन अधिकार पार्टी के गौतम आनंद यादव, ओमप्रकाश, आदि सैकड़ो छात्र थें. रेल चक्का जाम करते समय रेल पुलिस राजेंद्रनगर ने कुछ छात्रों को गिरफ्तार भी किया. पुलिस की उदासीनता को देखते हुए 20 छात्रों ने खुद गिरफ़्तारी दी, छात्रों का कहना है कि जब तक बहाली रुक नहीं जाती तब तक हमलोगों का आन्दोलन जारी रहेगा.

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Leave a Reply

Your email address will not be published.