Input your search keywords and press Enter.

आरएसएस के आरक्षण वाले बयान पर भड़के तेजप्रताप ने अपने अंदाज में कह दिया कि अगर…

tej pratap yadav pr

tej pratap yadav pr


न्यूज़ डेस्क: चुनाव हो रहा हो और आरक्षण का मुद्दा न गरमाएं यह भारतीय चुनाव के इतिहास में नहीं हुआ. एक बार फिर वार पलटवार का दौर शुरू हो गया है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले भी आरक्षण का मुद्दा गरमाया है. आरएसएस प्रवक्ता और प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के दौरान कहा कि आरक्षण का इतने सालों में कोई फायदा नहीं हुआ है. ऐसे में इस पर अब विचार करना चाहिए. सबको अब समान रूप से अधिकार मिलने चाहिए.

इसपर पहले लालू यादव ने कड़ा ऐतराज जताते हुए कह दिया किया कि आरक्षण किसी की खैरात नहीं है. आरक्षण संविधान प्रदत्त अधिकार है. आरएसएस जैसे जातिवादी संगठन की खैरात नहीं. इसे छीनने की बात करने वालों को औकात में लाना कमेरे वर्गों को आता है. आरएसएस पहले अपने घर में लागू 100 फीसदी आरक्षण की समीक्षा करे. कोई गैर-सवर्ण पिछड़ा/दलित व महिला आजतक संघ प्रमुख क्यों नही बने हैं? बात करते हैं! ‘मोदी जी आपके आरएसएस प्रवक्ता आरक्षण पर फिर अंट-शंट बके हैं. बिहार में रगड़-रगड़ के धोया, शायद कुछ धुलाई बाकी रह गई थी जो अब यूपी जमकर करेगा.

Loading...

अब तेज प्रताप यादव ने भी आरएसएस के बयान पर हमला बोला है और कहा कि छात्र राजद नौजवानों के हक को छिनने नहीं देगा. आरक्षण हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है. आरएसएस की मनमानी नहीं चलने देंगे. DSS आरक्षण पर RSS को खेदड़ देगा. खबरदार, अगर आरक्षण से छेड़छाड़ की तो.

[related_posts_by_tax title=”रिलेटेड न्यूज़:” posts_per_page=”3″]
इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]

Leave a Reply

Your email address will not be published.