Input your search keywords and press Enter.

बाइक समेत तीन युवक पुल से सीधे जा गिरे नदी में, फिर मौके पर….

संजीव मिश्रा, सहरसा: जब कोई घर से निकलता है तो उसके लिये एक बहुत बड़ी बात होती है कि सही सलामत घर वापस आ जाए, पर सबके साथ ऐसा किस्मत नहीं होता है. ऐसा ही मामला देर शाम सहरसा में घटित हुआ. सहरसा-मानसी रेलखंड के फनगो हॉल्ट के निकट गुरुवार शाम रिटायर्ड रेल पुल संख्या 47 पर से एक मोटर साइकिल कोसी नदी में गिर गयी. जिसमें मोटर साइकिल पर सवार दो युवक और एक बच्चा पानी में डूब गये. हालांकि, थोड़ी देर में बच्चा को स्थानीय लोंगो द्वारा निकाल लिया गया.

लेकिन, दोनों युवकों का पता नहीं चल पाया है. बताया जाता है कि डूबने वाले गुलरिया निवासी मो. इस्लाम उद्दीन का पुत्र तौफीक और दामाद रामपुर गोगरी निवासी शमसाद है. वहीं नदी से मौत को मात देकर निकलने वाला बच्चा मो. इस्लाम का नाती है. जो सिमरी बख्तियारपुर में पढ़ाई करता है. उसी बच्चे को सिमरी बख्तियारपुर ले जाने के दौरान फनगो हॉल्ट के पास यह बड़ी घटना घट गयी. उधर, घटना के घंटों बाद विलंब से मानसी पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. परंतु रात हो जाने की वजह से शव की तलाश नहीं हो पायी. आखिर किन हालात में लोगों को इन पुल पर से गुजरना पड़ता है, मुख्य रूप से अगर कहा जाए तो सड़क के अभाव में हुई मौत.

Loading...

बदला-कोपरिया वर्षों से सड़क निर्माण की बात होती रही है. लेकिन, सड़क निर्माण संभव नहीं हो सका है. ज्ञात हो कि वर्ष 2013 में 19 अगस्त को मां कात्यायनी स्थान पूजा-अर्चना करने जा रहे जिसमें 28 श्रद्धालुओं की मौत सहरसा-पटना राज्यरानी सुपरफास्ट ट्रेन से कट कर हो गयी. घटना के बाद भी नेता व रेल प्रशासन ने सड़क समेत धमारा स्टेशन का विकास की घोषणा की. लेकिन, आज तक न मंदिर तक पक्की सड़क ना ही नये प्लेटफार्म का निर्माण कार्य पूर्ण हो पाया है. जिस वजह से लोग आज भी पटरी के पत्थरों पर गिरते हुए और रेल के रिटायर्ड पुल को जैसे-तैसे पार कर सहरसा और खगड़िया आवागमन करते है. या यूं कहें कि मजबूरी में खगड़िया सहरसा के लोगो को गुजरना पड़ता है. जब सरकार बनती है तो लोगों को लगता है शायद इसबार पूरा हो जाएगा, पर यहां ना कोई सांसद ध्यान देता ना ही राज्य सरकार, ऐसे में लोग क्या करें? किसी तरह लोग जीवन यापन करने के लिए मजबूर है.

यह भी पढ़ें:
2019 लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुटा चुनाव निर्वाचन आयोग

ब्रेकिंग : भोजपुरी फिल्म जगत में छाई शोक की लहर, फिल्म डायरेक्टर ने की आत्महत्या

अब माही कोहली के छक्कों पर भारी पड़ रहे ये गेंदबाज, पढ़े पुरा विश्लेषण….

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.