Input your search keywords and press Enter.

नीतीश के इस फैसले को जानकर उनकी तारीफ करने को मजबूर हो जाएंगे बिहारी छात्र

chief minister nitish kuma

chief minister nitish kuma


राजधानी पटना और पूर्णिया में एक-एक नए विश्वद्यालयों का निर्माण होगा. इस बात की मंजूरी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में शनिवार को आयोजित राज्य कैबिनेट मीटिंग में दे दी गई है. सूत्रों के मुताबिक मगध विश्वद्यालय बोधगया को बांट कर पटना में और बीएन मंडल मधेपुरा विश्वद्यालय को बांट कर पूर्णिया जिलें में एक-एक यूनिवर्सिटी बनाई जाएगी. पटना में बनने वाली यूनिवर्सिटी का नाम पाटलिपुत्र और पूर्णिया में बनने वाली यूनिवर्सिटी का नाम पूर्णिया विश्वविद्यालय रखा जाएगा.

बता दें कि मगध यूनिवर्सिटी गया जिलें में स्थापित है जिसके कारण पटना जिलें के छात्रों को अपने कागजी कार्यों के लिए बार-बार गया जाना पड़ता है. जिसके कारण छात्रों का काफी समय बर्बाद हो जाता है. साथ ही अगर कोई छात्रा को नाम सुधरवाने, डिग्री निकलवाने या फिर कोई अन्य संबंधित कामों के लिए गया जाना होता है तो उन्हें सुबह घर से निकलना पड़ता है जबकि उसे गया से लौटते हुए रात्रि हो जाती है और यह बात उसके माता-पिता लिए परेशानी का कारण भी बन जाता है. इन्ही सब कारणों को देखते हुए सरकार पटना में अलग यूनिवर्सिटी बनाने जा रही है.
Loading...

इसके अलावा सरकार मगध विश्वविद्यालय का दायरा भी छोटा करना चाहती हैं. मौजूदा समय में एमयू के तहत सात जिलों के करीब 300 कॉलेज आतें हैं. पर पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी बन जाने के बाद से इसके तहत नालंदा और पटना जिलें के तामाम कॉलेज आ जाएंगे. ऐसा ही हाल कुछ बीएनएमयू का है इसलिए उससे बांट कर एक पूर्णिया यूनिवर्सिटी बनाया जा रहा है जिसके तहत पूर्णिया कटिहार अररिया और किशनगंज जिलें के तमान कॉलेज आ जाएंगे.
Flipkart पर भारी एक्सचेंज ऑफर चल रहा है.. क्लिक करें

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.
[addtoany]