Input your search keywords and press Enter.

शरद यादव के बिहार आने से पहले ही वशिष्ठ नारायण सिंह का बड़ा बयान, हमने कार्रवाई…

न्यूज़ डेस्क: जनता दल यूनाईटेड के बागी नेता शरद यादव बिहार के दौरे पर फिर से आने वाले हैं जिसके बाद सियासित शुरू हो गई है. शरद यादव के बिहार आगमन पर प्रदेश जदयू अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने शरद यादव के के कार्यक्रम पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि शरद यादव जी ने लाख मनाही के वाबजूद लालू के साथ मंच साझा कर पार्टी से नाता तोड़ लिया है.

उन्होंने कहा है कि उनपर हमने कार्रवाई के लिए राज्यसभा सचिवालय को पत्र लिखा है. गौरतलब है कि आज राज्यसभा सभापति वैंकया नायडू ने शरद यादव और उनके सहयोगी अली अनवर को नोटिस कर जारी किया है. राज्यसभा सभापति ने नोटिस जारी कर पूछा है की पार्टी विरोधी कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर आपकी सदस्यता क्यों ना रद्द की जाए. इस बाबत वैंकया नायडू ने दोनों राज्यसभा सांसद से जवाब मांगा है.

बता दें कि जदयू के बागी नेता शरद यादव की सदस्यता रद्द करवाने की मांग लेकर जदयू नेता उपराष्ट्रपति से मिलने दिल्ली पहुंचे थें. जदयू नेता आरसीपी सिंह और संजय झा उपराष्ट्रपति वैकेया नायडू से मिल कर शरद यादव की सदस्यता खत्म करने की मांग की थी. जिसके बाद आज यह नोटिस राज्यसभा सभापति ने जारी किया है.

Loading...

गौरतलब है कि महागठबंधन टूटने के बाद से जदयू से नाराज चल रहे वरिष्ठ नेता सह पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा हैं. शरद गुट ने पार्टी पर अपना दावा ठोका है जबकि नीतीश गुट ने चुनाव आयोग में जाकर अपना पक्ष रखा है. सीएम नीतीश कुमार द्वारा महागठबंधन तोड़ने के बाद शरद यादव 10 से 13 अगस्त के दौरान बिहार में जन-संवाद यात्रा पर आये थे. इसके बाद शरद यादव फिर से बिहार आ रहे हैं. पिछली बार जन-संवाद यात्रा के दौरान जदयू ने कहा था कि पार्टी के खिलाफ जाकर शरद यादव के साथ इस यात्रा में शामिल होगा उसको पार्टी के बाहर रास्ता दिखाया जाएगा. रमई राम समेत 21 नेताओं को शरद यादव के यात्रा में शामिल होने के कारण पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया.

इस बार शरद यादव 25 सितंबर से 28 सितंबर तक बिहार यात्रा पर रहेगें. इस दौरान वे जनता के साथ सीधा संवाद करेंगे. वे पटना आने के बाद सड़क मार्ग से बिहार में यात्रा करेंगे. 25 को वे पटना आएँगे और उसके बाद बिहटा, आरा, डूमरांव और बक्सर की यात्रा करेंगे. अब देखना यह है कि शरद यादव के इस कदम के बाद जदयू क्या कदम उठाती है. शरद यादव के बिहार आगमन पर शुरूआती प्रतिक्रिया से स्पष्ट हो गया है कि शरद यादव के साथ जाने वाले जदयू के बागी नेताओं पर गाज गिरना तय होगा.

यह भी पढ़ें:
ब्रेकिंग : एक बार फिर शरद आ रहे हैं बिहार, जाने क्या….

बिग ब्रेकिंग : शरद और अली अनवर पर छाए संकट के बदल,राज्यसभा सभापति ने पूछा क्यों ना रद्द…

राजद से निपटने के लिए अब आर-पार के मुड में उतरी, दिया चैलेंज, अगर राजद के लोग…

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.