Input your search keywords and press Enter.

जानें क्यों मिली शरद को हार, चुनाव आयोग ने क्यों कहा असली जदयू नीतीश का…

sharad yadav
sharad yadav

file photo

असली और नकली जदयू के खेल में शरद यादव को मुंह की खानी पड़ी है. शरद यादव के हार के वैसे तो कई कारण रहे लेकिन चुनाव आयोग के अनुसार असली जदयू पर दावा ठोकने वाले शरद यादव सही कागजात नहीं दे सकें. इसलिए चुनाव आयोग पार्टी के बागी शरद यादव के जदयू के सिंबल पर दावे को खारिज कर दिया है. इसके साथ अब यह तय हो गया है कि नीतीश कुमार का जदयू ही असली है.

पुरे मामले पर संजय झा ने कहा पार्टी ने चुनाव आयोग से मिलकर दावे से संबंधित दस्तावेजी सबूत दाखिल किए. पार्टी ने बिहार के 71 विधायकों तथा 30 विधान पार्षदों के शपथपत्र दिए. साथ ही दो लोकसभा सांसदों और सात राज्यसभा सांसदों के शपथ पत्र भी दिए. सभी ने मुख्यमंत्री व पार्टी सुप्रीमो नीतीश कुमार के प्रति समर्थन जताया.

Loading...

संजय झा ने कहा कि इसके अलावा चुनाव आयोग को राष्ट्रीय कार्यकारिणी, राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों और पार्टी के पदाधिकारियों के बहुमत का समर्थन पत्र भी सौंपा गया. संजय झा ने बताया कि पार्टी प्रतिनिधिमंडल ने आयोग से कहा कि शरद केवल मामले को लटकाने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि जदयू ने राज्यसभा सभापति के पास उन्हें अयोग्य घोषित करने का अनुरोध पत्र भेजा हुआ है.

आपको बता दें कि पार्टी लाइन से अलग चल रहे शरद यादव की राज्‍यसभा सदस्‍यता समाप्‍त करने के लिए भी जदयू ने राज्यसभा के सभापति से आग्रह किया है. इसके बाद राज्‍यसभा सचिवालय ने नोटिस भेजकर शरद से स्‍पष्‍टीकरण मांगा है.

यह भी पढ़ें:
नीतीश को तेजस्वी ने बताया बगुले के भेष में कौआ, कहा…

‘फिर लालू प्रसाद के पास आयेंगे नीतीश कुमार’

मध्यावधि चुनाव को लेकर महागठबंधन में दो फाड़, कांग्रेस ने….

इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.