Input your search keywords and press Enter.

पटना में पुरे जोश से हुआ हाफ मैराथन का आयोजन, सरकार की एक गलती से कटी नाक….

winner patna half marathon 2017
winner patna half marathon 2017

पटना हाफ मैराथन

बिहार की राजधानी पटना में हाफ मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया. जिसमें राज्य के तमाम हिस्सों से हर वर्ग के लोगों ने इसमें भाग लिया. महिला, पुरुष, बच्चे, बुजुर्ग बड़े उत्साह से इस मैराथन में भाग ले रहे हैं. 21.5 किलोमीटर की दौड़ में सैकड़ों की संख्या में पुरुष के साथ महिलाएं भी सम्मिलित हुई. आज राजधानी में उत्साह, जुनून और जोश तीनों का जबरदस्त मिश्रण देखने को मिला. हालांकि जब दौड़ आरंभ हुआ तो राजधानी पटना के तमाम प्रशासनिक आला अधिकारी समेत मुख्य अतिथि भी अनुपस्थित रहे.

पटना के आयुक्त आनंद किशोर, जिलाधिकारी संजय अग्रवाल समेत मुख्य अतिथि मिल्खा सिंह भी 21.5 किलोमीटर की दौड़ के आरंभ के समय आयोजन स्थल से अनुपस्थित रहें. मीडिया में खबर चलते ही कमिश्नर आनंद किशोर आयोजन स्थल पहुंचे। जहां सैकड़ों की संख्या में राज्य के कोने-कोने से आए प्रतिभागियों को शुभकामना देते हुए कहा कि आज सुबह से राजधानी दौड़ रहा है. तत्पश्चात मिल्खा सिंह, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे, जिलाधिकारी संजय अग्रवाल समेत तमाम जिला प्रशासन के बड़े अधिकारी उपस्थित हुए. प्रथम चक्र 21.5 किलोमीटर की दौड़ में प्रथम स्थान अर्जुन कुमार प्रमोद कुमार को मिला. इनके समेत कुल 3 लोगों को इस वर्ग में सम्मानित किया गया. इसके अलावा हर वर्ग से 3-3 महिला और पुरुष प्रतिभागियों को प्रशासन द्वारा सम्मानित किया जा रहा है. धावकों के लिए पानी की व्यवस्था बिलकुल नहीं थी. 21 किलोमीटर में विनर ने इस बात की शिकायत कैमरे पर की.

Loading...

इस मौके पर मिल्खा सिंह ने कहा कि मैं बिहार में सौ मिल्खा सिंह पैदा करने का सपना लेकर आया हूं. 50 साल पहले तख्त श्री हरिमंदिर जी के दर्शन के लिए आया था. दूसरी बार बिहार के युवकों को अपनी ताकत याद कराने का सपना लेकर आया हूं. 90 वर्ष का हो गया हूं.

मैं चाहता हूं कि मेरे जिंदा रहते ओलंपिक में एथलेटिक्स में गोल्ड मेडल लेकर कोई भारतीय आए. मिल्खा जो नहीं कर सका, वह बिहारी युवक कर दिखाएं. बिहार आने का निमंत्रण मिलते ही स्वीकार कर लिया.



इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.