Input your search keywords and press Enter.

विश्व बैंक की टीम ने किया सैदपुर, कर्मलीचक एसटीपी,नेटवर्क का दौरा

न्यूज़ डेस्क : एक दिवसीय दौरे पर आई 5 सदस्यीय विश्व बैंक के टीम ने एसटीपी एव नेटवर्क का दौरा किया. इस दौरान बुडको के अधिकारी एवं संबेदक की पूरी टीम मौजूद रही. विश्व बैंक की टीम ने बुडको के नेतृत्व में चल रहे सभी कार्यो का मुवायना करते हुए कहा की कंपनी द्वारा किए जा रहे कार्य काफी संतोषजनक है. टीम ने बताया कि पिछले माह नवम्बर के अपेक्षा इस बार कार्य को देख काफी खुशी मिली मिशन मोड़ में लक्ष्य को निर्धारित कर कार्य प्रगति पर है. तेजी से कार्य होने के साथ साथ पावर का भी ध्यान रखना होगा कितनी बिजली की जरूरत है इसका भी आकलन कराकर पहले ही इंतजाम करना होगा इस बात का जिक्र मीटिंग में भी किया गया जिसपर बुडको एमडी ने कहा कि इसे जल्द तय कराया जाएगा.

अबतक कुल 10 किलोमीटर पाइप लेइंग का कार्य हो चुके है. टीम ने सैदपुर कर्मलीचक एसटीपी नेटवर्क में चल रहे कार्य को खुद जाकर सभी एक एक बिंदु पर निरीक्षण किया. मुख्य रूप कार्य मे राव सीवेज सम्प ,प्लांट स्बीआर बेसिन का खुदाई का काम तेजी से चल रहा है. टीम को बताया गया कि दो तरह का कार्य चल रहा है पहला पुराने पंप हाउस ,मॉनसून टैंक के कुछ हिस्से को तोड़कर बेहतर बनाकर जीर्णोद्धार किया जा रहा है दूसरा नए बनाने के लिए खुदाई के साथ फाउंडेशन वर्क का कार्य जारी है. यह पूरी कार्य का निर्माण दोनों साइट पर जारी है. कर्मलीचक की लागत 73 करोड़ जबकि सैदपुर की लागत 188 करोड़ है. 42 MLD का डिसचार्ज होगा एसटीपी का निर्माण होने के बाद नाला में जाएगा जो 30 माह में बनकर तैयार होगा.

Loading...

एसटीपी नेटवर्क का कार्य वोल्टास प्राइबेट कंपनी लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है. टीम कार्यस्थल का निरीक्षण करने के बाद बुडको ऑफिस सभागार में आकर विस्तार से मीटिंग की चल रहे कार्यो को लेकर. जिसमे संबेदक के साथ बुडको के सभी पीडी ,डीपीडी अधिकारी शामिल रहे. यह मीटिंग बुडको प्रबन्ध निदेशक अमरेन्द्र प्रासाद सिंह के नेतृत्व में सम्पन हुई. इस दौरान विश्व बैंक की टीम ने एमडी की आश्वस्त किया कि सभी प्रकार से मदद की जाएगी ताकि समय पर कार्य पूर्ण हो. एमडी ने कहा कि कार्य गुडवत्ता के साथ पूर्ण होगा समय पर इसके किये बुडको के इंजीनियर और अधिकारी मन से कार्य मे लगे हुए है. गंगा को स्वच्छ व निर्मल करने के लिए पूरी तरह से बुडको संकल्पबद्व है अपने कार्यो के द्वारा. एसटीपी सीवरेज नेटवर्क का निर्माण होने से पटना भी स्वच्छ व सुंदर होगा साथ ही जलजमाव व जल निकासी से भी मुक्ति मिलेगी.

प्रति सप्ताह इसकी कार्य की मीटिंग साइट और ऑफिस में होगा ताकि कार्य मे कोई बाधा उत्पन्न न हो. पीआरओ ने बताया कि एनएमसीजी के बिहार हेड सौम्य मुखोपाध्याय भी शामिल थे. विश्व बैंक के टीम का नेतृत्व टीम लीडर आलोक कुमार ने की. बुडको पीआरओ चन्द्रभूषण कुमार ने बताया कि इसबार विश्व बैंक की टीम न केवल साइट का भ्रमण किया बल्कि कार्य तेजी से चलते देख अपने मन के उदगार को रजिस्टर में व्यक्त भी किया माननीय केंद्रीय मंत्री आदरणीय नितीन गड़करी के अनुरूप लक्ष्य से पहले कार्य को पूर्ण करने हेतु सभी तत्पर व तैनात है कार्य मे कोई कोताही नही की जाएगी. डेभलपमेंट बैंक के बिहार हेड विवेक विशाल भी आये हुए थे जिन्होंने विभागों में नए पोजेक्ट को लेकर मीटिंग कर विकास आयुक्त से भी मुलाकात की. टीम में विश्व बैंक के तरफ आईजीएस ब्रांड,आलोक कुमार, बुडको से प्रोजेक्ट हेड योगेंद्र कुमार,इंजीनियर दुबेजी,जाहिद विजय कुमार ,चंद्रदीप कुमार ,लता चौधरी सहित संबेदक भी दौरा ने मोजूद रहे. ऑफिस में मीटिंग सीजीएम मदन मोहन कुमार, जीएम टेक्निकल जैनेन्द्र नाथ सिंह प्रोजेक्ट से जुड़े सभी वरीय अधिकारी,इंजीनियर व संबेदक मौजूद रहे.


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.
[shareaholic app=”share_buttons” id=”18820564″]

Leave a Reply

Your email address will not be published.