Input your search keywords and press Enter.

अखिलेश ने महाराणा प्रताप को बताया सिर्फ क्षत्रिय नेता तो राजा भैया ने कहा….

न्यूज़ डेस्क : आगामी लोकसभा चुनाव को सभी पार्टियां अभी से ही वोटरों को रिझाने में जुट गई है. बीजेपी जहां सपा-बसपा गठबंधन के बाद से नई रणनीति तैयार करने में जुटी है तो वहीं दूसरी तरफ सपा पार्टी सभी समाजवादियों को एकजुट करने में लगी हुई है. कल बुधवार को सपा कार्यालय लखनऊ में महाराणा प्रताप की जयंती मनाते हुए ठाकुर वोटों को साथ लाने की कोशिश की गई.

जिस पर कुंडा के बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ़ राजा भैया ने हमला किया है. उन्होंने ट्विट कर लिखा कि ‘महाराणा को मात्र क्षत्रियों का नेता मानना उनका अपमान है, वो विदेशी आक्रमणकारियों के विरुद्ध लड़े और भारत माँ के सच्चे सपूत थे.

Loading...



Widget not in any sidebars

यहां बता दें कि कल बुधवार को सपा कार्यालय में महाराणा प्रताप की जयंती पर बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा था कि आज महाराणा प्रताप के जयंती यहां मनाई जा रही है लेकिन उसकी हलचल दूसरी तरफ ज़्यादा है. वह आदर्श वीर पुरुष थें और उनकी धारणा को कोई नहीं बदल सकता है. उन्होंने अपने स्वाभिमान को जिंदा रखने की खातिर कई कठिनाईयों को ऐसे ही झेल गए. घास की बनी रोटी खाई लेकिन कभी भी मुग़ल साम्राज्य के सामने अपना सिर नहीं झुकाया. क्षत्रियों की बड़ी मौजूदगी में उन्होंने लखनऊ ऑफिस में कहा कि हम इस समाज का सम्मान कभी कम नहीं होने देंगे.


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.