Input your search keywords and press Enter.

अलीगढ़ के कॉलेज पर लगा धर्म परिवर्तन का आरोप

जामिया उर्दू मेडिकल कॉलेज के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एसे तो हमने कई मामले सुन रखे हैं जहाँ जबर्दस्ती हिंदुओं का धर्म परिवर्तन के, लेकिन इस खबर को पढ़कर आपके रूह कांप सकते हैं।

जामिया उर्दू मेडिकल कॉलेज के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर लगा धर्म परिवर्तन का आरोप
जामिया उर्दू मेडिकल कॉलेज के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर लगा धर्म परिवर्तन का आरोप

कमला नगर के कमल सिंह ने डीआईजी के नाम लिखित शिकायत दर्ज कराते हुए कहा है कि वह करीब 10 साल से जामिया उर्दू मेडिकल रोड में गार्डनर सुपरवाइजर के पद पर हैं। उनके खाते में हर माह पीएफ काटकर वेतन आता रहता था, लेकिन सितम्बर 2019 में ड्यूटी जाने पर रजिस्ट्रार शमुनरजा नकबी और ओएसडी फरहत अली खां ने उनपर धर्म परिवर्तन के लिए दबाब बनाया। जब उन्‍होंने इसका विरोध किया तो दोनों आरोपियों ने उनकी हाजिरी और वेतन पर रोक लगा दी।

कमल सिंह जब भी काम करने जाते हैं तो उनकी हाज़िरी नही लगायी जाती और उनकी वेतन भी नहीं दी गयी है। इस बात का विरोध करने पर, कमल के ऊपर धर्म परिवर्तन करने का डबाव डाला जाता है। कमल की पत्नी ने भी जाके कई बार विरोध करने का कोशिश किया है, परंतु इन विरोधों का कोई लाभ नहीं हुआ।

धर्म परिवर्तन ना करने पर कमल सिंह को नौकरी से निकालने की और उसके पूरे परिवार को मौत की घाट उतारने की भी धमकी दी जाती है।

जामिया उर्दू मेडिकल कॉलेज के इस मामले में बीजेपी नेता मनोज शर्मा, रीता राजपूत समेत एक दर्जन नेताओं ने विरोध जताया। उन्होने डीआईजी से मिलकर तत्‍काल कार्रवाई की मांग की है।

एसएसपी आकाश कुलहरि ने कहा अगर आरोप सही पाये गए तो आरोपियों को जल्द से जल्द सज़ा मिलेगी। रजिस्ट्रार और ओएसडी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।