Input your search keywords and press Enter.

UP में बीजेपी को हराने के लिए शिवपाल सिंह यादव ओवैसी से गठबंधन करने को तैयार


उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनावों की आहट आते ही सियासी बिसात बिछनी शुरू हो गई है. तमाम राजनीतिक दल वोटों की गणित में नई रणनीतियां बना रहे हैं. इसी क्रम में शिवपाल सिंह यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) 2022 के विधानसभा चुनावों में असदुद्दीन ओवैसी की अगुवाई वाली एआईएमआईएम के साथ ही दूसरे छोटे दलों से गठबंधन की तैयारी कर रही है. यही नहीं इसके साथ ही प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के साथ भी गठबंधन के विकल्प खुले रखे हैं.

वैसे पीएसपी लोहिया ने ये भी साफ कर दिया है कि अगर गठबंधन में उसे 100 सीटों से कम मिलेंगी तो पार्टी गठबंधन नहीं करेगी. ऐसी स्थिति में पार्टी प्रदेश की सभी 403 सीटों पर अकेले दम पर चुनाव लड़ेगी. यह बात पार्टी के मंडल प्रभारी श्री प्रकाश राय उर्फ लल्लन राय ने कही है. उन्होंने कहा है कि उनकी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव बीजेपी को हराने के लिए लगातार छोटे दलों के नेताओं से संपर्क कर रहे हैं. बीजेपी को हराने के लिए प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया गठबंधन को लेकर समान विचारधारा वाले सभी छोटे-छोटे दलों के सम्पर्क में है और बातचीत जारी रखे हुए है.

लल्लन राय ने कहा कि पार्टी विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है. अगले एक महीने में पार्टी हर बूथ तक जाने की तैयारी कर रही है. इसके लिए एक बूथ 15 यूथ की पार्टी तैयारी कर रही है. मंडल प्रभारी लल्लन राय ने कहा कि प्रयागराज में होने जा रहे जिला पंचायत चुनाव में भी पार्टी की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी. प्रयागराज में पार्टी के पास छह से सात जिला पंचायत सदस्य हैं और पार्टी के नवनिर्वाचित जिला अध्यक्ष दीनानाथ यादव भी जिला पंचायत सदस्य निर्वाचित हैं. ऐसे में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में भी पार्टी बीजेपी प्रत्याशी को हराने के लिए विपक्ष के प्रत्याशी के समर्थन में वोट करेगी.

वहीं इस मौके पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मंडल प्रभारी लल्लन राय ने जिला और विधानसभा स्तर के पार्टी कार्यकर्ताओं का एक सम्मेलन भी आयोजित किया. जिसमें पार्टी कार्यकर्ताओं को 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए तैयारी में जुटने का निर्देश भी दिया गया.