Breaking News
December 12, 2018 - लालू निकलना चाहते हैं बाहर
December 12, 2018 - कृषि विभाग में निकली बंपर बहाली
December 12, 2018 - महागठबंधन में यह फार्मूला आया सामने
December 12, 2018 - तेज प्रताप भी जीत से उत्साहित
December 12, 2018 - हार के अगले दिन बिहार में योगी
December 12, 2018 - बिहार से बाहर जदयू के सभी प्रयासों का हुआ बुरा हाल
December 12, 2018 - महागठबंधन में बड़े भाई और छोटे भाई पर बिगड़ी बात
December 12, 2018 - लोस के शीत सत्र में सुपौल की कांग्रेस सांसद ने इन मुद्दों को ले दी स्थगन प्रस्ताव नोटिस
December 12, 2018 - वसुंधरा राजे सरकार के 30 में से 20 मंत्री चुनाव हार गए, बेटे को टिकट दिलवाया वो भी हार गये
December 11, 2018 - मुख्यमंत्री ने समाजवादी नेता स्व0 राम अवधेष चैधरी के श्राद्धकर्म में भाग लिया

क्या जदयू की होगी महागठबंधन में वापसी?

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए

qari shoeb

पिछले कुछ दिनों से बीजेपी और जदयू के बीच सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है और यह अब बस हम नहीं कह रहे हैं, दोनों दलों के नेताओं के बयानों ने सबकुछ साफ़ कर दिया है. सबसे ज्यादा नीतीश सरकार की किरकिरी केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित साश्वत को लेकर हुई. साश्वत की गिरफ़्तारी नहीं होने तथा उनके बयानबाजी से कहीं न कहीं नीतीश सरकार का मखौल उड़ा, खास कर लोगों ने नीतीश कुमार को उनकी यूएसपी पर ही सवाल उठाने लगे.

आज जो के सी त्यागी ने मीडिया में बयान दिया उससे सबकुछ साफ़ हो गया कि जदयू पुरे मामले को बहुत ही गंभीरता से ले रही है. पहले एक बार फिर से पढ़ लिए कि के सी त्यागी ने क्या कहा फिर आपको राजद युवा प्रदेश अध्यक्ष कारी सोएब का बयान सुनायेंगे.

त्यागी ने कहा: कानून को अपमान बताना किसी भी गठबंधन के लिए घातक हो सकता है. कोई भी एफआइआर की कॉपी को रद्दी का कागज बताता है तो यह कानून का अपमान है. हम एनडीए को 2010 वाली ऊंचाई पर ले जाना चाह रहे है, लेकिन ऐसी घटना से गठबंधन को धक्का लगेगा. अगर एनडीए के मंत्री ही ऐसी भाषा का उपयोग करेंगे, जिसका फायदा विपक्षी दल उठाएंगे जो अच्छा नहीं है. ये सभी बातें गठबंधन के लिए सही नहीं है.

अब राजद की प्रतिक्रिया आपको सुनाते है, राजद के युवा प्रदेश अध्यक्ष कारी सोएब से जब सवाल पूछा गया कि क्या जदयू का फिर से समर्थन लेंगे तो उन्होंने ना नहीं बोला, कहा इसका फैसला तो शीर्ष नेतृत्व करेगी. उन्होंने कहा कि इस तरह का बयान सिर्फ मामले में झूटी तारीफ बटोरने की एक कोशिश है. बयान बहुत बाद में आया है और यह जानबुझ कर दिया गया है.

विडियो देखियें, उन्होंने क्या कहा..

शेयर कर और लोगों तक पहुंचाए
Tagged with:

About author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *