Input your search keywords and press Enter.

अमेरिका ने सीरिया के खिलाफ छेड़ा युद्ध, तीसरे विश्व युद्ध के आसार क्योंकि रूस ने भी किया ऐलान

donald trump

अमेरिका ने कथित केमिकल अटैक पर सीरिया को सबक सिखाने के लिए ब्रिटेन और फ्रांस के साथ मिलकर सीरिया के खिलाफ युद्ध का ऐलान कर दिया है. सीरिया की राजधानी दमिश्क में तेज धमाकों के साथ धूल-धुएं के गुबार उठते दिखाई दे रहे हैं. एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इन हमलों में अमेरिकी टॉमहॉक मिसाइलों का इस्तेमाल भी किया गया है.

इन हमलों पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए रूस ने इसे राष्ट्रपति पुतिन का अपमान करार दिया है. रूस ने कहा कि इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. कहा जा रहा है अगर रूस इसके बदले की कार्रवाई शुरू करता हाई तो तीसरा विश्व युद्ध शुरू हो सकता है.

Loading...

ट्रंप ने टेलिविजन पर राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि असद सरकार द्वारा अपने ही लोगों पर रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के खिलाफ अमेरिका ने ब्रिटेन और फ्रांस के साथ मिलकर यह कार्रवाई की है. ट्रंप ने आगे कहा, ‘कुछ समय पहले मैंने अमेरिका की सशस्त्र सेनाओं को सीरियाई तानाशाह बशर-अल-असद की रासायनिक हथियार क्षमताओं से जुड़े ठिकानों पर सटीक हमले करने के आदेश दिए.’

उन्होंने हमले की जानकारी देते हुए बताया, ‘फ्रांस और ब्रिटेन की सशस्त्र सेनाओं के साथ संयुक्त अभियान चल रहा है. हम दोनों देशों का आभार जताते हैं. यह नरसंहार उस भयानक सरकार द्वारा इस्तेमाल किए गए रासायनिक हथियारों की प्रवृत्ति में बड़ी वृद्धि है.’

ट्रंप ने सीरिया के राष्ट्रपति असद पर अटैक करते हुए कहा, ‘यह किसी इंसान की हरकत नहीं हो सकती है. यह एक शैतान की इंसानियत के खिलाफ की गई हरकत है. आज रात किए हमले के पीछे हमारा उद्देश्य रसायनिक हथियारों के निर्माण और प्रयोग करनेवालों को चेतावनी देना है. रसायनिक हथियारों का प्रयोग और निर्माण दोनों को रोकना हमारा उद्देश्य है..’


Widget not in any sidebars

Leave a Reply

Your email address will not be published.